Home सामान्य ज्ञान राडार के आविष्कार से पहले किसी कैंप को हमले का अलर्ट कैसे मिलता था? 

राडार के आविष्कार से पहले किसी कैंप को हमले का अलर्ट कैसे मिलता था? 

दोस्तोँ आप जानते होंगे की राडार दुश्मन प्लेन के अपने इलाके में आने की सुचना ग्राउंड कण्ट्रोल को दे देता है लेकिन क्या आप जानते हैं की राडार के आविष्कार से पहले किसी कैंप को हमले का अलर्ट कैसे मिलता था? दोनों विश्व युद्ध के बीच के समय में जब राडार की खोज नहीं हुई थी ऐसे एकॉस्टिक मिर्रोर्स और लिसनिंग divices का इस्तेमाल करके दुश्मन के प्लेन के इंजन की आवाज़ मीलों की दुरी से बेस पे कैच की जाती थी और सभी को सतर्क कर दिया जाता था।

फिर चैन होम राडार सिस्टम के डेवेलप होने के बाद इन एकॉस्टिक मिर्रोर्स का कोई काम नहीं बचा। दूसरे विश्व युद्ध से पहले ऐसे कईं एकॉस्टिक राडर्स ग्रेट ब्रिटैन के पूरे तट पर बिछाये गए थे जिनमे से कुछ आज भी खड़े हैं और विज्ञान की तरक्की के जीते जागते स्मारक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

इन्होंने पानी के अंदर रह के कर लिए पूरे 6 रुबिक क्यूब solve!

दोस्तों रुबिक क्यूब एक मुश्किल पहेली है जिसे सुलझाने में कई बार घंटों लग जाते हैं| लेकिन क…