Home स्वास्थ्य कोहनी के पिछले हिस्से पर लगने से कभी कभी करेंट क्यों लगता है?

कोहनी के पिछले हिस्से पर लगने से कभी कभी करेंट क्यों लगता है?

दोस्तोँ आपको भी कभी जाने अनजाने में कोहनी के पिछले हिस्से में चोट लगने से एक झटका सा लगा होगा जैसे की एक इलेक्ट्रिक शॉक। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है की शरीर में यह सिरहन सी पैदा क्यों होती है? और ऐसा बॉडी के किसी और पार्ट के टकराने से क्यों नहीं होता! वह इसलिए क्यूंकि यह सिरहन जो करंट जैसी होती वह नर्वस के आपस में टकराने की वजह से होती है हड्डियों के टकराने से नहीं।

उलनार नर्व नाम की नस हमारे शरीर के ऊपरी हिस्से से निचे हाथ तक आती है। यह बॉडी की सबसे लम्बी अनप्रोटेक्टेड नर्व होती है माने कोई भी मसल इस नर्व को प्रोटेक्शन नहीं देता। जब हमे करंट लगता है तब हमारी इसी नर्व पे इम्पैक्ट पड़ता है और चूँकि नेर्वेस इलेक्ट्रिक पल्सेस के थ्रू सिग्नल्स को ट्रांसफर करती हैं इस ट्रांसफर के अचानक ब्लॉक होने पर हमे शौक लगता है क्या समझे?

12 Comments

  1. 5, May 2020 , Mature Follicle Count and Multiple Gestation Risk Based on Patient Age in Intrauterine Insemination Cycles with Ovarian Stimulation Evans et al evaluated the risk of multiple level pregnancies by age group and the number of mature follicles obtained related to the use of COH-IUI treatment. tamoxifen and uterine cancer symptoms

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

इन्होंने पानी के अंदर रह के कर लिए पूरे 6 रुबिक क्यूब solve!

दोस्तों रुबिक क्यूब एक मुश्किल पहेली है जिसे सुलझाने में कई बार घंटों लग जाते हैं| लेकिन क…